मुझे है काम ईश्वर से – Mujhe Hai Kaam Ishwar se Jagat Ruthe To Ruthan De

302

Mujhe Hai Kam ishwar se

मुझे है काम ईश्वर से


मुझे है काम ईश्वर से जगत रूठे तो रूठन दे

 जगत रूठे तो रूठन दे


कुटम परिवार खुद थारा माल धन लाज लोभन की

हरि के भजन करने में जगत छूटे तो छुटन दे

मुझे है काम ईश्वर से जगत रूठे तो रूठन दे


करूं कल्याण में अपना बेठ सत्संग संतन की 

लोग दुनिया के भोगों में मौज लुटे तो लूटन दे,

मुझे है काम ईश्वर से जगत रूठे तो रूठन दे


लगी मन में लगन मेरे हरि के भजन करने की 

रीत संसार रितीयों से अगर टूटे तो टूटन दे,

मुझे है काम ईश्वर से जगत रूठे तो रूठन दे


धरी सिर पाप की मटकी मेरे गुरुदेव ने झटकी 

हो ब्रह्मानंद ने पटकी अगर फुटे तो फूटन दे,

मुझे है काम ईश्वर से जगत रूठे तो रूठन दे

****************




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here