Amiya Jhare o Sadho Amiya Jhare अमिया झरे हो साधो

931
Mhara Sasra Ne Kijo re
Mhara Sasra Ne Kijo re

Amiya Jhare o Sadho

अमिया झरे हो साधो अमिया झरे

 अमिया झरे हो साधो अमिया झरे

इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

 

हाँ गगन मंडल बीचे उन्मुख कुवेला, एजी सत हो नाम की वहाॅं झड़ी हो झड़े

हे इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे।

अमिया झरे हो साधो अमिया झरे, इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

 

हाँ, अखंड ब्रह्मंड में वा लग रही तारी, दसमे द्वार जाइने ने खबर पड़े

इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

अमिया झरे हो साधो अमिया झरे, इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

 

हाँ, त्रिखुंटी महल में वहां बाजी रहा बाजा, एजी भाई सुखमन नार वा घोर करे

 इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

 

अमिया झरे हो साधो अमिया झरे, इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

हाँ, कहे हो कबीर सुनो भाई साधो, हे अमिया पिए वो नर काहे को मरे

इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

 

हाँ, अमिया झरे हो साधो अमिया झरे,

इण भंवर गुफा का माय अमिया झरे

***************************

Amiya Jhare o Sadho Lyrics

 

Amiya Bhajan PDF

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here