Tu ka tu इनका भेद बता मेरे अवधू Enka Bhed Bata mere Avadhu

1493
Mhara Sasra Ne Kijo re
Mhara Sasra Ne Kijo re

Tu ka tu

है इनका भेद बता मेरे अवधू अच्छी करनी करले तू

है इनका भेद बता मेरे अवधू अच्छी करनी करले तू

डाली फूल जगत के माही जहां देखुं वहां  तू का तू

 

ए हाथी में हाथी बण बैठो  कीड़ी में है छोटो क्यो

होई महावत ऊपर बैठे हांकण वाला तू का तू

है इनका भेद बता मेरे अवधू …

 

ए चोरों के संग चोरी करता बदमासो में भैलो तू 

चोरी करके तू भाग जावे पकड़ने वाला तू का तू

है इनका भेद बता मेरे अवधू …

 

ए दाता के संग दाता बणग्यो भीखारी में भेलों तु

 मंगतों होकर मांगण लागे देणे वाला तू का तू

है इनका भेद बता मेरे अवधू …

 

है नर नारी में एक बिराजे दो दुनिया में दीखेे क्यो 

बालक होकर रोवण लागे रखण वाला तु का तु

है इनका भेद बता मेरे अवधू …  

 

ए जल थल जीव में तू ही बिराजे जहां देखूं वहां तू का तू 

कहे कबीर सुनो भाई साधु गुरु मिल्या है तु का तु

है इनका भेद बता मेरे अवधू …

***************

Tu ka tu Lyrics

Jahan dekhu wahan Tu ka tu PDF downnload

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here