चल चला चल ओ भगता Chal Chala Chal O bhakta Chal

884
Dharti Gagan Me Hoti hai
Dharti Gagan Me Hoti hai

chal chala chal o bhakta chal chala chal

चल चला चल ओ भगता चल चला चल

 

श्लोक – छू ले जो माँ की चैखट को हां.. तो जर्रा भी सितारा हो जाए
जहाँ जिक्र हो माँ का मंगल हो हां.. जन्नत का नजारा हो जाए
मैया के दर पे हर शक्ति आकर के शीश झुकाती है
सारी दुनिया माँ के दर पे कष्टों से मुक्ति पाती है ।।

 

रख के मन में विश्वास, नाम मैया का ले ले तेरे काम आएगें राम

टूटे ना आस, चल चला चल ओ भगता चल चला चल

 

युग युग से माँ शेरावाली तार रही है दूनिया को

जाओ अपनी बिगड़ी बना लो सवार रही है दुनिया को

माँ का बन जा तू दास,  माँ का बन जा तू दास

नाम मैया का ले ले तेरे काम आएगें राम

टूटे ना आस, चल चला चल ओ भगता चल चला चल

 

तन मन कर दे माँ को अर्पण मैल दिलो के धोती माँ

भर देती है घर खुशियो से जिसपे खुश होती है माँ

रहने दे ना उदास,  रहने दे ना उदास

नाम मैया का ले ले तेरे काम आएगें राम

टूटे ना आस, चल चला चल ओ भगता चल चला चल

 

जिसके घर में सच्चें मन से माँ का पूजन होता है

वो घर घर ना समझो भैया वो एक मंदिर होता है

रहता हर दम उल्लास,  रहता हर दम उल्लास

नाम मैया का ले ले तेरे काम आएगें राम

टूटे ना आस, चल चला चल ओ भगता चल चला चल

 

जय माता की कहता चल ‘लख्खा’,खुल जाए किस्मत तेरी भी

जैसे सुनती भक्तों की, वैसी सुनेगी तेरी भी

फिर तू ना हो निराश, फिर तू ना हो निराश

नाम मैया का ले ले तेरे काम आएगें राम

टूटे ना आस, चल चला चल ओ भगता चल चला चल

*********************

Chal Chala Chal o bhakta

Chal Chala Chal o bhakta Chal Chala Chal PDF Download

 
 
Rakh Ke man me Vishwas Naam Maiya ka le le
tere Kam ayenge Ram
Chal Chala Chal O bhakta Chal Chala chal

 


krishna bhajan

Kabir Bhajan

Mata Bhajan

Meera Bhajan

Gorakshnath bhajan

Aarti

Ramdevji Bhajan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here