करे भगत हो आरती माई दोई बिरियाँ – Kare Bhagat Ho Aarti

4495
Dharti Gagan Me Hoti hai
Dharti Gagan Me Hoti hai

Kare bhagat ho

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ

 

सदा भवानी दाहिनी, सदा भवानी दाहिनी

सन्मुख रहे गणेश
पांच देव रक्षा करे, भ्रह्मा विष्णु महेश

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ   

 

सोने के लोटा गंगाजल पानी, माई दोई बिरियाँ 

अतर चढ़े  दो दो शीशियाँ, माई दोई बिरियाँ 

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ 

 

लाये लदन वन से फुलवा, माई दोई बिरियाँ  

हार बनाये चुन चुन कलियाँ  माई दोई बिरियाँ 

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ  

 

पान सोपारी मैया ध्वजा नारियल दोई बिरियाँ  

धुप कपूर चढ़े चुनिया, माई दोई बिरियाँ  

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ  

 

लाल वरन सिंगार करे, माई दोई बिरियाँ  

मेवा खीर सजी थरियां माई दोई बिरियाँ 

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ 

 

पांच भगत मिल जस तोरे गावे, माई दोई बिरियाँ  

गुप्तेशवर की पीर हरो, माई दोई बिरियाँ 

काटो विपत की भई झरिया माई दोई बिरियाँ 

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ  

 

हाॅं करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ  

करे भगत हो आरती, माई दोई बिरियाँ 

***********************************************

rakesh tiwari kare bhagat ho

करे भगत हो आरती माई दोई बिरियाँ - Kare Bhagat Ho Arti Lyrics

 

aarti mai doi biriya PDF  Download

करे भगत हो आरती माई दोई बिरियाँ - Kare Bhagat Ho Arti Lyrics

 

#matabhajan

 


krishna bhajan

Kabir Bhajan

Mata Bhajan

Meera Bhajan

Gorakshnath bhajan

Aarti

Ramdevji Bhajan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here