लाली लाली लाल चुनरियाँ | lali lali lal chunariya

1351
Dharti Gagan Me Hoti hai
Dharti Gagan Me Hoti hai

लाली लाली लाल चुनरियाँ

Lali Lali Lal Chunariya Kaise na  maa Ko bhaye

 

माई मेरी सूचियाँ जोतावाली माता तेरी सदा ही जय

माई मेरी उँचियाँ पहाड़ावाली माता, तेरी सदा ही जय।

 

लाली लाली लाल चुनरियाँ, कैसे ना माँ को भाए

ये लाल चुनरियाँ नारी के, तीनो ही रूप सजाए

लाली लाली लाल चुनरियाँ, कैसे ना माँ को भाए ।।

 

पावन होती है नारी की, बाल अवस्था

इसीलिए कन्या की हम, करते है पूजा

ये पूजा फल देती है, सुखो के पल देती है

हो सर पे देके लाल चुनर, कंजक को पूजा जाए

लाली लाली लाल चुनरियाँ, कैसे ना माँ को भाए

ये लाल चुनरियाँ नारी के, तीनो ही रूप सजाए

लाली लाली लाल चुनरिया, कैसे ना माँ को भाए ।।

 

दूजे रूप में आके नारी, बने सुहागन

प्यार ही प्यार बना दे ये, अपना घर आँगन

मिले जो प्यार में भक्ति, तो मन पा शक्ति

हो लाल चुनरिया ओढ़ सुहागन, रूपमति कहलाए

लाली लाली लाल चुनरियाँ, कैसे ना माँ को भाए

ये लाल चुनरियाँ नारी के, तीनो ही रूप सजाए

लाली लाली लाल चुनरिया, कैसे ना माँ को भाए ।।

 

तीजा रूप है माँ का जो, ममता ही बांटे

पलकों से चुन ले सबकी, राहो के कांटे

ये आँचल की छाया दे, तो जीवन को महका दे

हाँ लाल चुनरिया ओढ़ के माँ, फूली नहीं समाए

लाली लाली लाल चुनरियाँ, कैसे ना माँ को भाए

ये लाल चुनरियाँ नारी के, तीनो ही रूप सजाए,

लाली लाली लाल चुनरिया, कैसे ना माँ को भाए ।।

***********************************************

lali lali lal chunariya lyrics

 

लाली लाली लाल चुनरियाँ | Lali Lali Lal Chunariya Lyrics - Mata bhajan
 
Lali Lali lal Chunariya by Anuradha

 

लाली लाली लाल चुनरियाँ | Lali Lali Lal Chunariya Lyrics - Mata bhajan
 

 

#matabhajan

 


krishna bhajan

Kabir Bhajan

Mata Bhajan

Meera Bhajan

Gorakshnath bhajan

Aarti

Ramdevji Bhajan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here